खजूर वाला दूध कब पीना चाहिए?

खून में हीमोग्लोबिन और विटामिन की कमी होनेपर खजूर वाला दूध पीना चाहिए । खजूर और दूध के कॉम्बिनेशन से बने ड्रिंक और मिल्क शेक बहुत ही हेलथी मॉर्निंग डाइट है । यकीन माने पूरे मिडल-ईस्ट और उत्तरी अफ्रीका के सभ्यताओ ने हजारों सालों से इसका लाभ उठाया है । खजूर और दूध के फायदे और बनाने की विधि के लिए इस पोस्ट को पढ़ते रहिए ।
🧋🧋🧋

khajoor dudh
Milk Date Image from Twitter

खजूर वाला दूध |khajoor or doodh

खजूर दूध एक लोकप्रिय प्रकार का आहार है जो काफी समय से प्रचलन में है। खजूर के इस्तेमाल का पता हम 5320 ईसा पूर्व से लगा सकते है। खजूर मध्य पूर्व और उत्तरी अफ्रीका के लोगों के लिए एक प्रमुख वस्तु है। मुख्य रूप से इन क्षेत्रों में खेती की जाती है, मैक्रोन्यूट्रिएंट्स और कई अन्य स्वस्थ तत्वों की जन्मजात संरचना के कारण खजूर अत्यधिक फायदेमंद होते हैं।

खजूर दूध का सेवन आप मुख्यता दो तरीके से कर सकते है । पहला यह की आप कुछ गीली खजूर को दूध के साथ चुस्की लेकर खाए । और, दूसरा यह की आप थोड़ी मेहनत कर के किसी तरह खदूर को दूध मे मिलाकर एक मिल्क शेक जैसा ड्रिंक बना ले। इसमे आप बादाम, पिस्ता और किशमिश जैसे ड्राइ फ्रूट भी डाल सकते है ।

मिल्क-डेट तथा डेट मिल्क के नाम से बाजार में खजूर युक्त दूध काफी समय से कोल्ड ड्रिंक के रूप में मौजूद है । खाड़ी-देशों मे यह काफी प्रसिद्ध और प्रचलित है । जैसे की अल-मराई जैसी कंपनी के टॉप प्रोडक्टस में इसका शुमार होता है । लेकिन इसकी खपत साल भर एक जैसी नहीं होती ।

मुस्लिम समाज में खजूर ज्यादा प्रचलित होने के वजह से खजूर-दूध की डिमांड भी रमजान के महीनों में बढ़ जाती है । रोज़े के महीने के दौरान आप इसे सहरी और इफ्तार दोनों वक्त इस्तेमाल कर सकते है । इसके अलावा स्कूल जाने वाले बच्चों के नाश्ते में इस से शामिल करने से उन्हे एक पौष्टिक आहार मिल जाएगा ।

खजूर वाला दूध सुबह नाश्ते में पीना चाहिए। खून और आयरण की कमी को दूर करने के लिए खजूर वाला दूध सुबह खाली पेट पीना चाहिए । खजूर वाले दूध में चीनी मिलाने की बिल्कुल जरूरत नहीं । वैसे ही वह मधुर और स्वादिष्ट लगता है । पिस्ता और किशमिश के साथ लेनेपर तो स्वाद में चार गुना बढ़ोतरी हो जाती है ।

खजूर वाला दूध कब पीना चाहिए?

  • एनीमिया यानि खून की कमी होनेपर खजूर वाला दूध पीना चाहिए ।
  • वैवाहिक जीवन में संभोग ताकत को बढ़ाने के लिए खजूर वाला दूध पीना चाहिए ।
  • बच्चे के लिए दूध बढ़ाने के लिए माता खजूर दूध को पी सकती है ।
  • हीमोग्लोबिन, कैल्सीअम, पॉटेशियम और विटामिन-बी की कमी पूरी करने के लिए खजूर वाला दूध पीना चाहिए ।
  • बीमारी से उबरने के लिए काजू , बादाम, पिस्ता, किशमिश को मिलाकर खजूर वाला दूध पीना चाहिए ।

खजूर वाला दूध पीने के फायदे | khajoor or doodh ke fayde

अगर किसी के शरीर में क्रियात्‍मक तत्‍वों के अवशोषण में बाधा आ रही है और वह विटामिन तथा मिनरल की कमी ख्याल रही है तो खजूर और दूध कैल्शियम, आयरन (लोह) का बेहतरीन स्रोत है। खजूर के साथ दूध पीने के कुछ फायदे निम्नलिखित हैं।

  • त्वचा को मजबूत और पुनर्जीवित करता है
  • बालों की बनावट को मजबूत और घना करता है
  • यह बेहतर रक्त परिसंचरण को बढ़ावा देता है और एनीमिया को रोकता है
  • दृष्टि और नेत्र स्वास्थ्य में वृद्धि
  • स्मृति हानि और मनोभ्रंश से बचाता है
  • तंत्रिका तंत्र उत्तेजित होता है

खजूर वाला दूध कैसे बनाएं?

खजूर वाला दूध बनाने की विधि :

  1. 50 ग्राम खजूर की गुठलियाँ निकाल कर उसे आधा लीटर दूध में रात भर भिगोए या 15 मिनट तक उबाले
  2. दूध कम होने पर मिश्रण में अधिक दूध या पानी मिलाए
  3. अतिरिक्त फायदे और स्वाद के लिए इसमे आप किशमिश, बादाम , पिस्ता और जाफरान मिला सकते है
  4. अब इस मिश्रण को मिक्सर में अच्छी तरह घोल ले , तय्यार है आप का खजूर वाला दूध ।
  5. इस मिश्रण को आप ठंडा कर के तथा अगली सुबह पी सकते है
  6. खजूर वाले दूध को आप सुबह सुबह तथा सोने से आधा-एक घंटा पहले भी ले सकते है ।