ठंडे पानी से नहाने के फायदे जानिए

यह पोस्ट “Thande Pani Se Nahane Ke Fayde” पढ़ने के बाद आप को निम्न लिखित विषय संबंध मे उपयोगी जानकारी हासिल होगी । यह उपयुक्त जानकारी आप के जीवन मे बेहतरी ला सकती है ।
👉🏻ठंडे पानी से नहाने के फायदे
👉🏻ठंडे पनि से नहाने पर हुए शोध का निष्कर्ष

आम स्थिति में ठंडे पानी से नहाने के फायदे कई सारे होते है। ठंडा पानी आसानी से उपलब्ध भी हो जाता है । नहाने के लिए ठंडे पानी का इस्तेमाल करनेवाले बहुत कम लोग होते है । इसमे फायदे भी है और पानी गर्म करने के लिए खर्च होनेवाले ईंधन की बचत भी हो जाती है । सख्त सर्दियों के दिनों को छोड़ कर पूरे साल हम साधारण ठंडे पानी का इस्तेमाल नहाने और हाथ मुह धोने के लिए कर सकते है । ठंडे पानी का इस्तेमाल कुछ स्थितियों मे फायदा पहुचाता है तो कुछ स्थितियों मे नुकसान । आप को इसके दोनों पहलुओ को ध्यान मे रखते हुए सही तरीके से इसका इस्तेमाल करना चाहिए ।

आम तौर पर खिलाड़ी और गाव मे रहने वाले लोग नहाने के लिए ठंडे पानी का इस्तेमाल करते है । खिलाडीओ को इसके फायदे पता होते है । और वह अक्सर इसे खेल कूद और वर्जिश के बाद इस्तेमाल करने मे प्राधान्य देते है । तो गाव वालों को इसे बार बार गर्म करने के लिए ईंधन नहीं होता । शहरों मे तो गैस गीजर और इलेक्ट्रिक गीजर की बदौलत पुरे दिन और रात गर्म पानी उपलब्ध होता है । इस वजह से शहर मे रहने वाले बड़ी संख्या ठंडे पानी के फ़ायदों से वंचित रह जाती है । इस पोस्ट “Thande pani se nahane ke fayde” के जरिए हम इसी बारे मे जरूरी जानकारी हासिल करेंगे ।

ठंडे पानी से नहाने के फायदे | Thande Pani Se Nahane Ke Fayde

कई वैज्ञानिक दावों से पता चला है कि रोजाना ठंडे पानी से नहाना सेहत के लिए अच्छा होता है। इसे कोल्ड शावर लेना भी कहते है । ठंडे पानी से नहाने पर आपकी आदतों में कई सुधार हो सकते हैं। इनमें कुछ मुख्य फ़ायदे कुछ इस तरह है,

  • तनाव और चिंता कम होती है
  • रक्तसंचार बेहतर होता है
  • इम्यून सिस्टम के लिए फायदेमंद है
  • व्यायाम के बाद आराम दिलाता है
  • चर्बी / वसा को काम करने मे कारगर है
  • वीर्य के गुणवत्ता को बनाए रखता है
Thande Pani Se Nahane Ke Fayde Image
ठंडे पानी से नहाने के कुछ मुख्य फायदे

ठंडे पानी से नहाने के बाद आप रीलैक्स महसूस करने लगते है । हालांकि इसका कोई क्लीनिकल ट्रायल नहीं हुआ है जिसमें पता चल सके कि कोल्ड शावर चिंता और तनाव की समस्या कम करता है। लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि ये इसमें मदद कर सकता है। ठंडे पानी से नहाने पर शरीर मे तनाव महसूस कराने वाले और नुकसानदायक रसायन और हार्मोंन शरीरे से बाहर निकल जाते है।


2013 में टीईडी टॉक में ट्राएथलीट जोएल रनयोन का ने अपने अनुभवों के आधार पर बताया था कि कोल्ड शावर से आप उन परिस्थितियों से लड़ने के तरीके बदल सकते हैं जिनसे आप डरते हैं और आप असहज महसूस करते हैं। दूसरी ओर एक और तर्क दिया जाता है कि ठंडे पानी से नहाने वालों के दिमाग पर अचानक एक झटका सा लगता है, जो एक एंटीडिप्रसेंट प्रभाव हो सकता है।

ये तो साफ़ बात है कि ठंडे पानी के संपर्क में हमारी त्वचा के आने पर शरीर को झनझनाहट सी होती । इस वजह से शरीर तनाव में उस पर बहुत तेजी से प्रतिक्रिया करता है, जो दिल की धड़कन और रक्तसंचार को बढ़ाता है। दूसरी तरफ घरेलू स्तर पर भी ठंडे पानी से नहाना बहुत ही सुरक्षित माना जाता है.। कंपकंपी के अलावा इसका और कोई उल्टा प्रभाव नहीं पड़ता जो शरीर को नुकसान पहुंचाए।

⚠️“हां अगर आप बहुत बूढ़े हैं या आपको कोई दिल की बीमारी है तो आप बेहोश हो सकते हैं या आपको हार्ट अटैक भी आ सकता है। ”

2016 में प्लॉस वन (PLOS One) पत्रिका में एक डच अध्ययन छपा था जिसमें कोल्ड शावर के स्वास्थ्य पर प्रभाव बताया गया है। अध्ययन में पाया गया कि 90 दिनों के दौरान रोजाना ठंडे पानी से नहाने की आदत से इस अध्ययन में शामिल 29 फ़ीसदी लोगों की बीमारी में कमी देखने को मिली थी। अध्ययन के दौरान इन लोगों को गर्म पानी से सामान्य शावर के अन्त में उन्हें 30, 60 या 90 सेकेंड की अवधि के लिए ठंडे पानी से नहाने के लिए कहा गया।

शोधकर्ताओं ने पाया है कि कोल्ड शावर लेने से कोई फ्लू नहीं होता और न ही इसका कोई ग़लत असर होता है। शोध मे हिस्सा लेने वालों में सबसे ख़ास फायदा ये था कि उन्होंने ऊर्जा में बढ़ावा हुआ महसूस किया । यह कैफीन के भाव की तुलना से कई अधिक था । दूसरी तरफ इसके प्रभाव के कारण शरीर और हाथ-पैरों में ठंड लग रही थी।

कई एथलीट्स व्यायाम के बाद ठंडे पानी से नहाने के समर्थन में हैं । ठंडे पानी से नहाने पर व्यायाम के बाद होने वाले दर्द में आराम मिलता है। मासपेशियों के मरम्मत मे मदद करता है । लेकिन ये काम करता है कि नहीं इस पर वैज्ञानिकों के पास कोई सबूत नहीं है। कुछ अध्ययन कहते हैं कि इससे स्वास्थ्य में सुधार होता है लेकिन कुछ कहते हैं कि ये मांसपेशियों को अनुकूल बनाने की क्षमता को कम करता है।

शरीर मे जमा हुआ वसा कई बीमारिओ की वजह बन सकता है । ये सबसे अधिक सुना जाता है कि ठंडे पानी से नहाने पर शरीर में जमा हो रखी वसा को एक्टिव कर सकता है यानि एक्सट्रा फैट को कम करता है। मतलब वजन और फैट काम करने के लिए आप डाएट के साथ ठंडे पानी से नहा सकते है । इसमे पैसे की भी बचत होगी और सेहत मे भी सुधार होगा।

कई स्टडी में यह बात सामने आई है कि ठंडे पानी से नहाना स्पर्म प्रॉडक्शन के लिए अच्छा होता है। गर्म पानी से नहाते वक़्त आपके अंडकोष का तापमान बाधित होता और इससे स्पर्म काउंट पर सीधा असर पड़ता है। अगर आपके आहार में वसा की मात्रा ज़्यादा है तो स्पर्म काउंट में निश्चित तौर पर गिरावट आती है।

निष्कर्ष

ठंडे पानी से नहाने के फ़ायदों (Thande Pani Se Nahane Ke Fayde) के लिए वैज्ञानिक शोध अभी शुरूआती चरण में ही है और इसके अभी कोई पूरे साक्ष्य नहीं हैं। लेकिन उनका मानना है कि अगर ठंडे पानी से नहाने पर ठंड लगने के अलावा और कोर्ई नुकसान नहीं होता है तो ऐसा करने में कोई बुराई नहीं है। ख़ासकर तब जब लोगों को लगता है कि ये काम करता है। और कोई भी चीज के बारे मे पूरी जानकारी हासिल करने से हम बेहिचक उसके फायदे उठा सकते है । नुकसान के बारे मे आगाह होने के वजह से इस से भी हम बच जाते है ।

स्रोत बी.बी.सी हिन्दी
शायद आपको भी ये अच्छा लगे
टिप्पणी छोड़ें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं
  1. Unknown कहते हैं

    Good to know….trying